सामयिकी – 25 जुलाई 2019

  • Global Innovation Index और भारत
    • 2019 की रैंकिंग में 5 स्थान की छलांग
      • 2018 के 57वें स्थान से 2019 में 52वें स्थान पर पहुंचा
    • रिपोर्ट का प्रकाशन UN World Intellectual Property Organisation, INSEAD और कॉर्नेल यूनिवर्सिटी मिलकर करती हैं
    • 80 संकेतकों के आधार पर हर साल 129 देशों की रैंकिंग जारी की जाती है
    • मध्य और दक्षिण एशिया में बादशाहत कायम
    • टॉप 5 देश –
      • स्विट्जरलैंड
      • स्वीडन
      • अमेरिका
      • नीदरलैंड्स
      • ब्रिटेन
    • प्रति व्यक्ति जीडीपी के मुकाबले innovation के मामले में भारत लगातार नौवें वर्ष अव्वल रहा
    • दुनिया भर में आईटी सेवा का शीर्ष निर्यातक
    • बैंगलोर, मुंबई और नई दिल्ली दुनिया में शीर्ष 100 साइंस एंड टेक्नोलॉजी क्लस्टर में शामिल
      • इस क्लस्टर में अमेरिका, चीन और जर्मनी का दबदबा
    • संस्थाओं, मानव संसाधन और रिसर्च क्षेत्र में बड़ा सुधार
    • Logistics और महिलाओं को नौकरी देने के मामले में कमजोर प्रदर्शन
  • नियुक्ति और सेवा विस्तार
    • नियुक्ति
      • गृह सचिव – अजय कुमार भल्ला
        • असम – मेघालय कैडर के आईएएस अधिकारी
        • सितंबर में राजीव गौबा की सेवानिवृत्ति के बाद पदभार ग्रहण करेंगे
      • ऊर्जा सचिव – सुभाष चन्द्र गर्ग
        • अजय कुमार भल्ला के स्थान पर नियुक्ति
        • निवर्तमान वित्त सचिव
      • वित्त सचिव – अतनु चक्रवर्ती
        • सुभाष चन्द्र गर्ग की जगह लेंगे
        • वर्तमान में दीपम विभाग के सचिव
          • दीपम विभाग विनिवेश से जुड़े काम देखता है
      • दीपम विभाग के सचिव – अनिल कुमार खच्ची
        • वित्त सचिव के पद पर नियुक्त अतनु चक्रवर्ती की जगह लेंगे
      • सचिव डीपीआईआईटी – गुरु प्रसाद महापात्रा
        • वर्तमान में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन
        • रमेश अभिषेक की जगह पर नियुक्ति
      • दूरसंचार सचिव – अंशु प्रकाश
        • अरुणा सुंदराजन की जगह पर नियुक्ति
        • दिल्ली के प्रमुख सचिव भी रह चुके हैं
      • सचिव, पशुपालन और डेयरी विभाग – अतुल चतुर्वेदी
      • फार्मास्युटिकल सचिव – पीडी वाघेला
    • सेवा विस्तार –
      • राष्ट्रपति के सचिव – संजय कोठारी
        • 3 वर्ष का सेवा विस्तार
        • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कार्यकाल पूर्ण होने तक सचिव बने रहेंगे
  • गन्ने की एफआरपी 275 रुपए प्रति क्विंटल
    • पिछले सीजन के उचित और लाभकारी मूल्य की दर में कोई बदलाव नहीं
    • चीनी के बफर स्टॉक का लक्ष्य 40 लाख टन होगा
    • फैसला कृषि मूल्य और लागत आयोग की सिफारिशों पर आधारित
    • गन्ने का पेराई सीजन अक्टूबर से शुरू होता है
    • देश के प्रमुख गन्ना उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा इस मूल्य से ऊपर एक दर तय करते हैं जिसे राज्य समर्थित मूल्य कहा जाता है

साभार – दैनिक जागरण (राष्ट्रीय संस्करण) दिनांक 25 जुलाई 2019 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.