विचार श्रृंखला – 3

अगर कोई व्यक्ति अकारण और जान बूझकर आपको बार बार परेशान कर रहा हो तो उसकी गलतफहमी दूर करना प्रथम कर्तव्य बन जाता है। कहीं ऐसा न हो कि आपकी शराफ़त को आपकी कमजोरी मान लिया जाए। सनद रहे कि समंदर की चुप्पी अक्सर एक बड़े तूफान की तरफ इशारा करती है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.